कुछ लोग जिंदगी को चुनौती देने के लिए पसीना बहाते हैं,

और कुछ लोग दूसरों को धकेलने में|

परिणाम दोनों को कर्म के अनुकूल ही मिलता है|