कई महीनों से पूरी नींद सोया नहीं हूँ,

– क्यों?

अरे! एक सपना देखा था उस दिन,

बस उसे ही साकार करने में जुटा हुआ हूँ|

जब ये पूरा हो जायेगा तभी नए सपने देखूँगा|