ये धूप दौड़ और गर्मी में शरीर पसीने से लथपथ,
वक़्त इम्तिहान क्या लेगा, मैंने खुद चुना है ये अग्निपथ।

#shubhankarthinks