Home

Morning motivation

ऐसा नहीं है मैं करारा जवाब नहीं देता विरोधियों को , बस जवाब देने का तरीका अलग है, वो उँगली उठाते हैं और मैं उनको नजरअंदाज करके, खुद को और ऊपर उठाने का प्रयास करता हूँ|

सरप्राइज 

सरप्राइज अपने दोस्तों को तो सभी देते हैं, उनकी खुशी कैसी होती है पता नहीं मुझे! क्योंकि मैंने कभी गिफ्ट दिया नहीं किसी को| मगर आज अचानक से मैं घर पहुँचा , और दादी की वो हँसी वाली खिलखिलाहट  एक साथ जो छूटी तो लगा कि असल मायने  में यह सरप्राइज था|

Composition

Please have patience for sometime, To hear my frictioning pen. Have look for sometime, To watch the ink painting again. Have patience for sometime, To understand the hidden intensions. Do me a favor, By admiring my dedication and penchants. Open your mind for sometime, To accept the reality of the composition. Please do prediction for sometime, To calculate my efforts to achieve my ambition. You’ll have to lose yourself in lyrics, To catch the flow of a composition. #ShubhankarThinks

माँ को समर्पित

कुण्ठा, बाध्यता और लोक लाज, मगर हौसले हैं उसके जैसे पर्वत-पठार! गृहस्थ वो बड़ी यत्न से चलाती है, और ममता वात्सल्यता के समय हिम गिरी सी पिघल जाती है| ” माँ “