Home

Unconditional 

One day , one night  Our dreams will be bright  You and me  Will make love at sight  I know it’s just mind creation  Dreams are real   let me give them appreciation. I know it is just imagination  Make some memories Let make their aggregation. Our future should be like a fiction  There will be a lot confliction . Don’t think much about our story  It will be untraditional  Do love me and let me love you  Let’s make it…

Social Links

Hello guys good after noon all , hope you all are doing well i started blogging in December that time i had never thought that you guys will give your huge support and love .you all are amazing ,every blog have different thought different tone ,i always admire you all even i learned much from you so first of all i would like to say thanks to all of you .WordPress is perfect way to express your feelings and i…

Father 

In whom presence Your manhood make sense He never let you feel discomfort At any moment, in his existance Always pay for you in any how  Whatever you do study or do disco dance  When you find out your lover  You leave his home forever Never understand his feelings But look at him  He still gives thousands of blessings . He make sacrifices for your happiness  Wore the old clothes for your smartness  He  putted the old boots  Because of…

पहल

​कुछ समस्यायें तुम्हारी हैं  कुछ उलझनें मेरी भी हैं दोनों एक पग दूर खड़े हैं  मतभेदों में मजबूर खड़े हैं  कोई तो रिक्तस्थान भरो पहल मैं करूं या तुम करो ! दोनों के मन  विचलित हैं  विचारों में अधिकल्पित हैं करुण क्रुन्दन सा है अंतर्मन में  कंपित है तन वियोग के आगमन में इस विचित्र स्थिति में अब क्या करूँ ? पहल तुम करो या मैं करूँ ! मिलन की प्रतीक्षा में दोनों नयन आतुर हैं  अवरोध खड़ा है कठोर…

अंतिम दृश्य   भाग-७

प्रतिदिन की भांति आज भी शक्तिप्रसाद सुबह भोर में उठकर नहा धोकर गांव के बाहर वाले शिव मंदिर पर पूजा करने गए थे , अब उन्हें ये कहाँ पता था आज होनी को कुछ और मंजूर है ,जैसे ही घर वापस आये हर रोज की भांति उन्हें लगा मधुमति चूल्हे पर चाय वगरह बना रही होगी मगर आज दृश्य पूर्णतयः परिवर्तित था , बाहर बरामद एकदम शान्त था और आज कोई बर्तन की आवाज भी नहीं आ रही थी !…

कल्पना 

​*कल्पना कविता का अभिप्राय उस अनुपमा कन्या की छवि से है जो किसी नवयुवक के स्वप्नों में निर्मित हुई है  तुम्हारे बारे में क्या कहूं  शायद तुम कोई सौन्दर्य रस की कविता हो , जिसमें समस्त उपमायें सम्मिलित हैं ! नहीं तुम उन सभी दीपों का प्रकाश हो , जो मेरे ह्रदय रूपी आंगन में प्रज्वल्लित हैं ! या फिर तुम लेखनी हो किसी प्रेम ग्रन्थ की , जो पूर्णतयः हस्तलिखित है ! तुम जरूर पुष्पमाला हो उस प्रेम मन्दिर…

स्वाभिमान 

ख्वाबों में आकर दुनिया सजाती थी  मुझे पता था वो सब वहम था मेरा मगर तू भी मुझे कुछ कम नहीं उकसाती थी खैर मैंने अब तुझे भुला दिया तेरा नाम पता सब मिटा दिया आखिर स्वाभिमान भी अहम था मेरा ! कोशिश तो की थी मैंने भी   भरपूर मगर हर   बार  उसे नाकाम बनाना रहम था तेरा क्या पता मैं ही गलत था ? क्या पता मेरा सब कुछ एकतरफा था ? अगर ये सब सच है…

SELFISH OR SELF CARE -2

PREVIOUSLY ROHAN GOT texts from a unknown number he was so excited, now next_ As we know Rohan love to keep himself alone, that’s who don’t behave like other those who share their all naughty chat conversation with friends so this time he keep same. Sometimes Rohan talk to himself beacuase no one cant make control over  the thoughts. His first thought tells him “Rohan may be there will be a relative” but he reply to thought “But I have…

Completed 200* followers

Hello guys  I know you all are amazing , you are doing great yaar  I am your biggest fan , love the way you do support with your warm comments , Your comments work like fuel which push me to write more and more  I hope you will be continue , again I would like to say please do comment ,don’t care you are criticising or appreciating me cz I need both . I can’t list out all readers but…

अंतिम दृश्य -६ 

दुःख और सुख दोनों एक दूसरे के संगी हैं , सुख आता है तो इसके पीछे पीछे दुःख भी चला आता है ! खैर बेटा बहु को शहर गये पूरा एक वर्ष व्यतीत हो गया है इस बीच दीपावली पर सभी लोग इकठठे हुए थे मधुमती का वश चलता तो दीपावली के त्यौहार को रमजान के सरीखा एक महीने लम्बा खींच देतीं मगर ये उसके नियंत्रण से बाहर की बात है आखिर उसका वश तो खुद के परिवार पर भी…