Category: Motivation

Thought of the day 

कुछ अलग शौक पाल रखे हैं मैंने, नींदें काटकर सपने बुनता हूँ| पढ़ने गये कविता हम शेर-ओ-शायरी के दौर में, मेरी पंक्तियाँ कुचल गयीं, वाहवाही के शोर में| #ShubhankarThinks

Golden thought of life

वक्त बड़ी तेजी से चल रहा है, आपके पास दो विकल्प हैं , या तो ठहर कर जीवन का आनंद लो, या फिर वक्त की चाल में चाल मिला लो| अगर बीच का रास्ता चुना तो, ना काम बचा पाओगे, ना पहचान बना पाओगे|  

Mahadev

भोग विलास का त्याग कर, श्मशानों में तू रहता है और अपनी धुन में मस्त मगन, भांग रगड़ पी लेता है| मैं भी ठहरा तेरा अखंड भक्त, जो बस्ती में एकांत ढूंढ अंतर्मन में रहता है, संसार का मोह भुला के जो खुद अपने में जी लेता है|

Thought of the day

बेशक कितना भी नीचे गिरा ले ,मुझे ऐ तकदीर, लगातार मिली हार से हौसले और भी मजबूत हुए हैं| अब जितनी भी बार कोशिश करूंगा, पहले से कुछ ज्यादा ही उठूँगा|  

Thought of the day

अगर आप किसी कार्य को पहले की भाँति लगातार करते आ रहे हैं, मगर अब कुछ लोगों ने आपका विरोध करना शुरू कर दिया है! तो मेरा विश्वास मानिये अब आप बिल्कुल सही दिशा में प्रयास लगा रहे हैं|  

अन्तर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस: Motivation Quote

बेशक खुदा ने मुझे तुम सबसे अंग कम दिए हैं, मगर हौसले,मैं तुमसे 100गुने ज्यादा रखता हूँ| तुम निकल ना पाए मोह माया से, और मैं भूगोल विज्ञान के सिद्धांत गढ़ता हूँ|

समर शेष है

कठिनाइयों की मारामार, ऊपर से विफलताओं का अचूक प्रहार! निराशाओं से भ्रमित विचार, जैसे रुक गया हो ये संसार||   मस्तिष्क का वो पृष्ठ भाग , कर रहा अलग ही भागम भाग! गति तीव्र हो गयी है रक्त की शिराओं की, दिशाएं भ्रमित हैं रक्तिकाओं की|   ये परिणाम है सब असफलता का, सतत प्रयासों के बाद भी मिल रही विफलता का ! यह बात नहीं अब कोई विशेष है, समर अभी शेष है|   परिस्थितियों ने किये हैं सहस्रों…